लेज़र विकास और औद्योगिक अनुप्रयोग प्रभाग

लेज़र विकास और औद्योगिक अनुप्रयोग प्रभाग का अधिदेश उन्नत ठोस अवस्था लेज़र और उनके औद्योगिक अनुप्रयोगों के क्षेत्र में अनुसंधान और विकास के कार्यों जैसे कि लेज़र कट्टिंग, वैल्डिंग, मार्किंग, लेज़र ऐडिटिव मैन्युफैक्चरिंग को आगे बढ़ाना है। इसमें जटिल तकनीकी चुनौतियां जैसे कि इंजीनियरिंग पदार्थों के लेज़र प्रोसेसिंग, फ्लैश लैम्प और लेज़र डायोड द्वारा पंप किए गए उच्च शक्ति ठोस अवस्था लेज़र का विकास, इंट्रा- कैविटी सेकंड हार्मोनिक जनरेशन,  सतत और मोड- लॉक्ड फाइबर लेज़र के अवस्थाओं का अध्ययन शामिल है।

इस प्रभाग की गतिविधियां न केवल नई प्रणालियों के अनुसंधान और विकास तक ही सीमित हैं बल्कि पहले से ही मौजूद प्रौद्योगिकियों को उन्नत बना रही हैं और अन्य उपयोगकर्ताओं के लिए इंजीनियर्ड उत्पादों की आपूर्ति भी कर रही हैं। यह प्रभाग लेज़र मेटेरियल प्रोसेसिंग तकनीकों व परमाणु ऊर्जा रिएक्टरों के कायाकल्प / मरम्मत के लिए रिमोट कंट्रोल टूल्स और फिक्स्चर के विकास में व्यापक रूप से शामिल है। यह प्रभाग औद्योगिक अनुप्रयोगों के लिए उच्च शक्ति ठोस अवस्था लेज़र के विकास में भी व्यापक रूप में शामिल है जो कि न सिर्फ़ परमाणु ऊर्जा विभाग वल्कि बाहर के अनुप्रयोगों के जटिल आकार के पुर्जों  के विकास तथा लेज़र ऐडिटिव मैन्युफैक्चरिंग द्वारा असमान पदार्थों को जोड़ने तक सीमित नहीं है।

प्रभाग के बारे में अधिक जानकारी नीचे दिए गए लिंक से प्राप्त की जा सकती है:

प्रभाग के सदस्य
अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें:

डॉ. के. एस. बिंद्रा
प्रमुख, लेज़र विकास और औद्योगिक अनुप्रयोग प्रभाग
फ़ोन: +91-731-2442317(दफ्तर)
ईमेल: bindra (at) rrcat.gov.in

कंटेंट प्रबंधक: डॉ. सी. पी. सिंह
ईमेल: cpsingh (at) rrcat.gov.in  
सर्वोतम नज़ारा १०२४ x ७६८